Home / ताज़ा ख़बरें / अगर बच्चे की सुरक्षा चाहते हैं तो इस महिला को ज़रूर पहचाने

अगर बच्चे की सुरक्षा चाहते हैं तो इस महिला को ज़रूर पहचाने

प्रद्युम्न की हत्या प्राइवेट शिक्षा संस्थान की संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है। ये ज़रूरी है कि देश दुनिया रेयान स्कूल के पीछे की सच्चाई को जाने उन लोगों को जानें जो  शिक्षा माफिया हैं और अरबों की कमाई शिक्षा के नाम पर कर रहे हैं। इनका अपना पोर्टल है उसी से निकालकर कुछ तस्वीर और तथ्य  रख रहा हूँ। सबसे पहले मैडम ग्रेस पिंटो की कुछ तस्वीरों को देखिये और समझिये कि ये कानून के शिकंजे में क्यों नहीं आ सकतीं।  रेयान इंटरनेशनल का पहला स्कूल 1976 में मुंबई में खुला था और आज 2017 में भारत के 18 राज्यों में इसके 302 स्कुल हैं।  इतना बड़ा कॉर्पोरेट का मालिक और संस्थापक है पिंटो जनाब और मैनेजिंग डायरेक्टर है इसकी बीवी ग्रेस पिंटो। संवेदनहीनता की पराकाष्ठा ये है कि बच्चा प्रद्युम्न की हत्या की खबर से इसके कानों में जूं नहीं रेंगी , इसने शोक तक प्रगट नहीं किया , इसका एक बयान तक नहीं आया।  इतना तो तय है हर माँ आज इस पिंटो के नाम पर थूक रही है , हर बाप चाहता है ऐसे राक्षस और दानवी को फँसी की सजा मिले।  फिलहाल रेयान स्कूल के करता धर्ता पिंटो दंपत्ति पर सिवा थूकने के और कुछ नहीं कर सकता और यही मेरी प्रतिक्रिया है , मेरे गुस्से की अभिव्यक्ति है।