Home / राज्य / गुजरात / RTI रिपोर्ट: सत्ता के लिए मोदी अपनी ज़ात और बाप दोनों बदल सकते है, चाय की दुकान पर चरस बेचते थे
मोदी

RTI रिपोर्ट: सत्ता के लिए मोदी अपनी ज़ात और बाप दोनों बदल सकते है, चाय की दुकान पर चरस बेचते थे

झूठा निकला मोदी जी की पिछड़ी जाति और दलित जाति का दावा देखिये पूरी रिपोर्ट जिसे यकीं न हो आरटीआई डालकर पूछ ले..पर्दे के पीछे की सच्चाई ये है कि मोदी झूठा इन्सान है ये तो सभी जानते है। मगर कुछ और भी हकिकत है कि मोदी मोङ घांची बनिया जो कि अपर मे भी अपर लेवल का बनिया है ने (1-1-2002) एक जनवरी दो हजार दो को मुख्यमन्त्री रहते अपनी जाति को ओबीसी लिस्ट मे डालकर ओबीसी का हक खाने का पाप किया। यही तक नही ओबीसी को बेवकूफ बनाया कि ओबीसी प्रधानमन्त्री है।

दुसरा झूठ मोदी ने कभी चाय नही बेची। बल्कि अपने एक रिस्तेदार के पास एक चाय की कैन्टीन का कोन्ट्रेक्ट था मोदी शौकिया वहां कभी कभार जाकर बैठता था। उस कैन्टीन का कोन्ट्रेक्ट इसलिए कैन्सील हो गया था कि वहा चाय के बहाने चरस बेची जाती थी। ऐसे न जाने कितने झूठ मोदी जी ने बोले हैं जिसके बारे में आपको पता है।

ये भी पढ़ें: 

नोट: इस खबर का मकसद किसी को आहत या प्रभावित करना नहीं था, ना ही इस खबर का कोई भी कांटेक्ट इस वेबसाइट से लेना देना है. इस खबर को उपरोक्त विडियो और बयानों के आधार पर लिखा गया है.

धन्यवाद.